एक अनजान औरत के साथ सम्भोग

फिर वो अपने बूब्स को भी हाथो में पकड़कर उसको मसल रही थी और ये सब देखकर मुझसे रहा नहीं जा रहा था मेरा तो बस मन कर रहा था की इन्हें पकड़कर खा जाऊ और इसकी चूत को फाड़ डालूं, अब वो मेरे पास आई और मुझसे लिपटकर मेरी बाहों में टूट पड़ी मैंने भी देर ना करते हुए उसे अपनी बाहों में भर लिया और फिर उसके बूब्स को ऊपर से ही दबाने लग गया मुझे ये सब करने में बहुत मज़ा आ रहा था और फिर मैंने उसे बेड पर लेटा दिया और उसके कपड़े धीरे धीरे करके उतारने लग गया वो भी ये सब देखकर इतनी बेताब हो रही थी की मैं आपको क्या बताऊ, अब जैसे ही वो मेरे सामने नंगी हुई तो मैंने भी उसके गोरे गोरे बूब्स को अपने हाथों में भरकर दबाना शुरू कर दिया और फिर उसके बाद मैंने उसके निप्पल को मुहँ में भरकर चूसना भी शुरू कर दिया मुझे ये सब करने में बहुत ही ज़्यादा मज़ा आ रहा था और मैं ये सब करके काफ़ी अच्छा महसुस भी कर रहा था। उसके गोरे गोरे, गोल गोल बूब्स को मुहँ में भरकर चूसने में बहुत ही गजब का मज़ा आ रहा था और मैं ये सब देखकर पागल हुई जा रहा था और मेरा लंड तो मानो जैसे लम्बी रोड की तरह बस एक जगह एक ही पोज़िशन में खड़ा ही रह गया था वो मुझसे चुदवाने की कोशिश करी जा रही थी पर मैं भी किसी से कम नहीं था इसलिए मैंने भी उसे जोर से पकड़ रखा था और उसे अपनी बाहों में जकड़ रखा था और फिर उसके बाद मैंने उसकी चूत में हाथ डाल दिया जिससे की वो मचल उठी और फिर मैं भी उसकी चूत पर अपना हाथ फेरे जा रहा था।

मेरे ऐसा करने से उसके मुहँ से सिसकारियां निकल रही थी और वो बड़ी ही ज़ोर ज़ोर से साँसे भर रही थी और पागलो की तरह मचली जा रही थी मैंने भी तब उसको कंट्रोल में करने के लिए उसके हाथो में अपना लंड थमा दिया था और फिर उसके बाद वो भी उसे अपने हाथो में लेकर ऊपर नीचे करने लग गई और उसके बाद मैंने भी अपनी स्पीड बड़ा दी और अपनी एक उंगली उसकी चूत में डाल दी। एक उंगली उसकी चूत में जाते ही वो मचल उठी और तड़पने लग गई और आअहह .. आहह. की आवाज़े निकालने लग गई मुझे ये सब देखकर बहुत ही ज़्यादा मज़ा आ रहा था और फिर मैंने भी उसकी चूत को ऊँगली से ज़ोर ज़ोर से चोदना शुरू कर दिया और फिर उसके बाद वो मुझे कहने लग गई की चूत मार दो अब, तो मैंने भी बिना कोई देर किए उसकी चूत में से उंगली निकाली और उसकी टांगो को ऊपर उठाकर मेरे लंड को उसकी चूत के ऊपर रखा और बस एक ही झटके में लंड पूरा अंदर डाल दिया और फिर उसके बाद वो ऐसी चींखी की बस जैसे की उसकी जान निकलने वाली हो गई और मैं बस उसको चोदता गया पूरे कमरे में फच फच की आवाज़े आ रही थी और ये सब सुनकर मैं और पागल हुई जा रहा था और मैं उसे वैसे ही ज़ोर ज़ोर से चोदे जा रहा था। फिर करीब 15 मिनट तक ऐसे ही चोदने के बाद वो मुझे कहने लग गई की चोद डालो फाड़ डालो मेरी चूत को और अपना पानी निकाल दो, तो मैंने भी बिना कोई देर किए उसकी चूत में लंड ज़ोर ज़ोर से पेलना शुरू कर दिया और फिर उसके बाद मैंने एक ही झटके में अपना सारा पानी उसकी चूत में उतार दिया और उसके ऊपर आकर गिर गया। हम ऐसे ही थोड़ी देर पड़े रहे और फिर हम ऐसे ही बिस्तर पर एक दूसरे साथ चिपककर हिलने लग गये जैसे की नाग नागिन नाचते है और एक दूसरे को प्यार करने लग गये। फिर हम थोड़ी देर बाद उठे और बाथरूम में जाकर कपड़े पहने और बाहर आकर बैठ गये और फिर उसके बाद हम दोनों बातें करने लग गये और साथ ही साथ कुछ खाने भी लग गये मुझे ये सब बहुत ही ज़्यादा अच्छा लग रहा था और मैं उसके साथ बाहों में लिपटा हुआ था और फिर उसके बाद मैंने उससे अपने बारे में पूछना शुरू कर दिया तो मुझे लगा की उसने कही मेरी आई.डी. से नंबर लिया होगा पर बाद में पता चला की उसकी किसी फ्रेंड ने उसको मेरा नंबर दिया था।

ये सुनकर मैं काफ़ी खुश हो गया क्यूंकि मैं जानता था की मुझे ये सब काफ़ी खुशी देता है और फिर वो मुझसे कहने लग गई की आज जो मुझे मज़ा मिला है वो मुझे आज से पहले कभी नहीं मिला है और ये मज़ा पाकर मैं बहुत खुश हूँ और आज के बाद हम एक दूसरे के साथ ही सेक्स किया करेंगे और ये जानकर मैं बहुत खुश हो गया।